लेखक परिचय

अमित शर्मा

अमित शर्मा

Posted On by &filed under जरूर पढ़ें, टॉप स्टोरी, राजनीति, साक्षात्‍कार.


भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का सपना है कि भाजपा को विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बनाया जाय. अपने अध्यक्ष के इसी सपने को पूरा करने में लगी भाजपा आज 9 करोड़ सदस्य संख्या को भी पार कर चुकी है. परन्तु भाजपा का लक्ष्य अब इतने पर ही रुकना नहीं है. वह इस संख्या को और भी विस्तार देना चाहती है. पार्टी इन सदस्यों के माध्यम से अपनी विचारधारा को विस्तार देना चाहती है.

भाजपा की इस महत्वाकांक्षी योजना के प्रमुख श्री दिनेश शर्मा से प्रवक्ता.कॉम के सहसंपादक अमित शर्मा ने मुलाकात की और इस योजना के सन्दर्भ में विस्तृत चर्चा की. आपके सामने इसी चर्चा के कुछ प्रमुख बिंदु प्रस्तुत हैं-

प्रवक्ता.कॉम: सर नमस्कार.

डॉ. दिनेश शर्मा: नमस्कार.

प्रवक्ता.कॉम: भाजपा के सदस्यों कि संख्या 9 करोड़ से भी अधिक हो चुकी है. इस सफलता पर आपको बहुत-बहुत बधाई.

डॉ. दिनेश शर्मा: जी धन्यवाद. इस सफलता का श्रेय माननीय प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के विकासपरक कामों और हमारे केन्द्रीय नेत्रित्व के अथक प्रयास को जाता है.

प्रवक्ता.कॉम: 1 नवम्बर को प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी को भाजपा का प्राथमिक सदस्य बनाने से शुरू हुए कार्यक्रम से आज आप बहुत बड़ी संख्या में सदस्य बना चुके हैं. क्या आपको इस सफलता की उम्मीद थी?

डॉ. दिनेश शर्मा: जी बिलकुल. आप जानते ही हैं कि भाजपा कार्यकर्ताओं पर आधारित पार्टी है. पूरे देश के कोने-कोने में हर जगह हमारे कर्मठ कार्यकर्ता मौजूद हैं. उनके बल पर इस कार्यक्रम के शुरुआत में ही हमे अपने लक्ष्य की प्राप्ति का पूरा भरोसा था.

इसके आलावा हमारे आदरणीय प्रधानमन्त्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी और हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह जी का अनुभव हमारे साथ था. इसलिए हमें अपनी सफलता का पूरा भरोसा था.

इस कार्यक्रम के दौरान मुझे खुद देश के 17 राज्यों में जाने का अवसर मिला. मैंने पाया कि देश के बहुत सारे लोग, विशेषकर युवा वर्ग भाजपा से जुड़ना चाहता है. इसके आलावा हमारी पार्टी के सभी बड़े नेता इस कार्यक्रम में लगातार सहयोग देते रहे. उसी मेहनत का परिणाम था कि इतने कम समय में इतने ज्यादा सदस्य पार्टी से जुड़ सके. पर अभी हमारी मंज़िल दूर है. अभी हम लगातार आगे बढ़ रहे हैं.

प्रवक्ता.कॉम: जानकारी मिली है कि आपने इस कार्यक्रम की समय सीमा बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दी है.

डॉ. दिनेश शर्मा: जी बिलकुल. दरअसल महाराष्ट्र, झारखण्ड, असम, जम्मू-कश्मीर जैसे कई राज्यों की इकाइयों का कहना था कि राज्यों में विधानसभा या स्थानीय चुनावों के कारण सदस्यता अभियान के लिए अपेक्षित समय नहीं मिल सका है. राज्य इकाइयों का अनुमान है कि वे अभी भी बहुत बड़ी संख्या में सदस्यों को भाजपा से जोड़ सकते हैं. राज्यों के इस तरह के अनुरोध को ध्यान में रखते हुए हमने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष से इस बात की, और गुजारिश की कि इस कार्यक्रम की समय सीमा बढ़ा दी जाए. हमें ख़ुशी है कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह जी ने हमारे कार्यकर्ताओं के अनुरोध को स्वीकार किया और सदस्यता कार्यक्रम की समय सीमा एक माह बढ़ा दी. हमारे कार्यकर्ताओं को उमीद है कि इस समय सीमा में हम रिकॉर्ड संख्या में भाजपा के सदस्य बनायेंगे.

प्रवक्ता.कॉम: कांग्रेस ने भाजपा के इस अभियान को झूठा करार देते हुए भाजपा को ‘मिस्ड कॉल पार्टी’ कहा है. इस पर आपका क्या कहना है.

डॉ. दिनेश शर्मा: कांग्रेस इस समय हताशा के दौर से गुजर रही है. उनके इस हालत पर सिर्फ सहानुभूति ही व्यक्त की जा सकती है. इससे ज्यादा हमें कांग्रेस के बारे में कुछ नहीं कहना.

हमारा मानना है कि-

‘‘ना किसी से इर्ष्या, ना किसी से होड़,

मेरी अपनी मंज़िल, मेरी अपनी दौड़.’’

आपकी जानकारी के लिए हम बताना चाहेंगे कि 9 करोड़ की जिस भारी संख्या में हमने अपने साथ लोगों को जोड़ा है, वो कुल संख्या का एक छोटा सा भाग है. ये ऐसे सदस्यों की संख्या है जिसे प्रमाणित किया जा चुका है. हकीकत तो ये है कि हमें मिस्ड कॉल के रूप में कुल 15 करोड़ 83 लाख काल प्राप्त हुई है, लेकिन अभी बाकी सदस्यों को प्रमाणित किया जाना बाकी है इसलिए अभी उनका नाम रजिस्टर्ड सदस्यों के रूप में दर्ज नहीं किया जा सका है.

इसके अलावा अभी हम उन क्षेत्रों के सदस्यों को भी रजिस्टर नहीं कर सके हैं, जहां पर मोबाइल कनेक्टिविटी की सुविधा नहीं है. देश के ऐसे क्षेत्रों में पारम्परिक ढंग से सदस्यता अभियान चलाया जा रहा है. इस ढंग से भी 66 लाख से ज्यादा सदस्य जुड़ चुके हैं. जिस समय हमें ये सारी संख्या प्राप्त हो जाएगी तब हमारी सदस्य संख्या कहां पहुँच जाएगी, आप इसकी सहज कल्पना कर सकते हैं.

हम अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष के ‘भाजपा के 10 करोड़ प्राथमिक सदस्य’ बनाने के संकल्प को पूरा करने में लगे हैं. इसके साथ ही मैं आपको बताना चाहूँगा कि भाजपा 2015 को ‘सदस्यता पर्व’ के रूप में मना रही है.

प्रवक्ता.कॉम: क्या आपको उम्मीद है कि इस अभियान के जरिये जो लोग आपसे जुड़ रहे हैं, वे आपको वोट देंगे ही.

डॉ. दिनेश शर्मा: देखिये, इस बात पर अब किसी को शक नहीं रहा है कि पूरे देश में माननीय नरेन्द्र मोदी जी के प्रति एक विशेष आकर्षण है. इसी कारण युवा वर्ग हमसे जुड़ना चाहता है. वह भाजपा से जुड़कर प्रधानमन्त्री से जुड़ाव महसूस कर रहा है, ये युवा प्रधानमन्त्री के मिशन में अपना सहयोग देना चाहता है. यही हमारी सबसे बड़ी पूंजी है. यही हमारी सबसे बड़ी सफलता है.

इसके अलावा, हमें जो भी मिस्ड काल प्राप्त हुई है, उससे एक बात तो सिद्ध हो ही जाती है कि उस व्यक्ति का भाजपा से वैचारिक रूप से जुड़ाव है. इसलिए आने वाले समय में हम देश के कोने-कोने में कार्यक्रम करेंगे जिसमे इन सदस्यों को बुलाया जायेगा. उन्हें पार्टी की विचारधारा के बारे में बताया जायेगा.

हमारा प्रयास देश में ऐसी विचारी क्रांति पैदा करने की है जिसके केंद्र में भारत को विश्व के महान राष्ट्र के रूप में स्थापित करना है. हमें पूरी उमीद है कि इस महान कार्य में भाजपा का ये अभियान बड़ी भूमिका निभाएगा.

प्रवक्ता.कॉम: उत्तर प्रदेश और बिहार में चुनाव होने हैं. इन राज्यों के लिए आपकी क्या रणनीति रही है?

डॉ. दिनेश शर्मा: उत्तर प्रदेश और बिहार से हमें बहुत ही उत्साहजनक परिणाम मिले हैं. उत्तर प्रदेश में हमने 1.5 करोड़ सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा था, परन्तु हमें इतना बेहतर परिणाम मिला है कि हमे खुद ही अपना लक्ष्य आगे बढाकर 2 करोड़ करना पड़ा है. इसी बात से आप समझ सकते हैं कि आने वाले चुनाव में उत्तरप्रदेश में मुकाबला भाजपा बनाम अन्य की तर्ज पर होगा.

इसी तरह बिहार में भी हमें बहुत अच्छा परिणाम मिल रहा है. आप सोचें कि जिस दिन नीतीश जी धरना देने बैठे थे उस दिन भाजपा के 1.37 लाख सदस्य बने थे. इसके आलावा जिस दिन लालू जी किसानों के नाम पर धरना दे रहे थे उस दिन दो लाख से ज्यादा लोग भाजपा से जुड़े. आप आसानी से समझ सकते हैं कि बिहार की जनता के मन में क्या चल रहा है. आने वाले चुनाव में बड़ा परिवर्तन होना तय है.

प्रवक्ता.कॉम: हमें अपना कीमती समय देने के लिए आपका धन्यवाद. नमस्कार.

डॉ. दिनेश शर्मा: आपको भी धन्यवाद. नमस्कार.

 

–अमित शर्मा

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz