मनमोहन आर्य

स्वतंत्र लेखक व् वेब टिप्पणीकार

“ईश्वर जीवात्मा के कल्याण के लिये उसे शरीर में भेजते हैं तथा समय आने पर उसका शरीर बदल देते हैं : डॉ. वागीश शास्त्री”

–मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून।                 आर्यसमाज धामावाला, देहरादून के 139वे वार्षिकोत्सव के दूसरे दिन प्रातःकालीन…

परमात्मा ने पशु-पक्षियों की भांति मनुष्यों को जीवनयापन का ज्ञान नहीं दिया, इसका कारण पता नहीं चलता : डॉ. वागीश शास्त्री

मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून।                 महर्षि दयानन्द द्वारा सन् 1879 में स्थापित आर्यसमाज-धामावाला, देहरादून का…

“ईश्वर उपासना से सहनशीलता प्राप्त होती हैः डॉ. सोमदेव शास्त्री”

–मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून।                 हमें दिनांक 15-12-2018 की सायं गुरुकुल पौंधा-देहरादून के आचार्य डॉ….

“अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के कमीशन का गुरुकुल कांगड़ी का भ्रमण एवं प्रशंसा”

गुरुकुल कांगड़ी का अतीत अत्यन्त स्वर्णिम एवं अनेक उपलब्धियों से भरपूर है जो शायद अब…

“यज्ञ-स्वाध्याय-सत्संग आदि के प्रेरक महात्मा दयानन्द वानप्रस्थ”

–मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून।                 महात्मा दयाननन्द जी वानप्रस्थ वैदिक साधन आश्रम तपोवन में दीर्घकाल…