लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


 

certificate-of-recogination-dr-jhaveriप्रवक्ता.कॉम से जुड़े डॉ. मधुसूदन झवेरी को सत्रहवें द्विवार्षिक तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी अधिवेशन में ‘हिन्दी रत्न’ सम्मान से सम्मानित किया गया। इन्हें यह सम्मान विश्व भर में हिन्दी को बढ़ावा देने के लिए और हिन्दी के निरंतर व अचूक सेवा करने के लिए दिया गया।

डॉ. मधुसूदन इस सम्मान से काफी खुश हैं और प्रवक्ता.कॉम को कुछ इस प्रकार बधाई दिए…

“प्रिय प्रवक्ता प्रबंधक मण्डली और संपादक जी–अंतर्राष्ट्रीय़ हिन्दी समिति की ओर से, संलग्न प्रमाण पत्र मेरी इस उपलब्धि में *प्रवक्ता*का अप्रत्यक्ष रूपसे  बडा योगदान है। ” –  डॉ. मधुसूदन झवेरी

प्रवक्ता.कॉम भी डॉ. मधुसूदन जी को मिली इस सफलता पर गर्व करता है और बधाई देता है और डॉ. मधुसूदन जीवन में और यशश्वी हों ऐसी शुभकामना रखता है ।

26 Responses to “डॉ. मधुसूदन झवेरी सम्मानित हुए ‘हिन्दी रत्न’ सम्मान से”

  1. नरेश भारतीय

    नरेश भारतीय

    प्रिय मधुसूदन जी आपको हिंदी रत्न सम्मान से विभूषित किया गया यह जान कर प्रसन्नता हुई. बधाई और शुभ कामनाएं.
    नरेश भारतीयnaresharora.bharatiya@gmail.com

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      प्रिय नरेश जी—–कुछ बाहर था। अतः विलम्ब हुआ। कामनाओं के लिए धन्यवाद।

      Reply
  2. डॉ. मधुसूदन

    द्वारा: रेनू एवं अरुण गुप्ता

    श्री मधु भाई :
    आपको बहुत बहुत बधाई ।
    अमेरिका के हिंदी जगत में आपका योगदान सराहनीय है ।
    रेनू एवं अरुण गुप्ता

    Reply
  3. Rekha Singh

    बहुत बहुत खुशी है आपके “हिन्दी रत्न ” सम्मान प्राप्ति पर । ईश्वर से यही प्रार्थना है की इसी तरह स्वस्थ रहकर आप हिन्दी और भारत माता की सेवा करते रहे । सुन्दर कार्य के लिए अखंड शुभ कामनाए ।

    Reply
  4. डॉ. मधुसूदन

    आठ शुभेच्छक (परिवार-और मित्र)

    निम्न आठ परिवार और मित्रों प्रति सामूहिक आभार व्यक्त करता हूँ।
    आप की शुभेच्छाएँ भी उद्धृत की हैं। धन्यवाद
    मधुसूदन
    (1)Namaste Madhu ji,
    Ye atyant harsh ka vishaya hai! Aap ko bahut abhinandana aur hamaari shubh kamnayein!
    ——bhavadeeya Manav.(Garg)
    ———————————————————–
    (2)From: Arun Mehta
    Congratulations!
    Arun and Nita Mehta
    ———————————————-
    (3)wow! Madhubhai
    — Congratulations. i am proud that i am your sister.
    and got a chance to work with you since last 44 years.
    i definitely would like to share this great news with many of my friends and email group.
    how is pallavi ben doing?
    please convey my regards, love and concerns to her.
    in appreciation
    anjlee (Pandya)
    —————————————————————————————————–
    (4)Madhu bhai,
    Hamari Hardik Badhai.
    Namaskar.
    Vishu & Mona (Khaitan)
    —————————————————————————————————-
    (5)नमस्कार मधुसूदन-जी।
    आप के इतने वर्ष की हिंदी की सेवा का सम्मान इस उचित पारितोषक से हुवा है।
    हमे आप पर गर्व है।
    व भगवान से प्रार्थना करते है की आप को लम्बी आयु दे के आप इस से भी अधिक हिन्दी की सेवा कर सके।
    शुभेच्छा व धन्यवाद।
    स्नेहांकित,–वसंत पाण्डव
    —————————————————————————————————–
    (6)हिंदी सेवा और सम्मान के लिएझवेरी सम्मानित हुए ‘हिन्दी रत्न’ सम्मान से
    बहुत बहुत बधाईयॉ ।
    बहुत प्रसन्नता हुई यह जानकर ।
    प्रमोद खन्ना
    —————————————————————————————————–(7)——— आदरणीय मधु जी को बहुत बहुत बधाई
    आपका अरुण तिवारी
    —————————————————————————————————–
    (8)श्री मधुभाई,
    आपका ये सन्मान जानके हमें बहुत ख़ुशी हुई.
    आप इस और इस से भी कई ज्यादा सन्मान के अधिकारी है वो हम हमेशा मानते आये है तो आज बहुत आनंद मिला.
    आपकी कई और रचनाए हम भविष्यमे पढ़ते रहे ऐसी प्रार्थना के साथ.
    मीनल और अतुल (पण्ड्या) का प्रणाम.
    ————————————————————————–

    Reply
  5. Rekha Singh

    बहुत बहुत खुशी है और ईश्वर से आपके लिए यही प्रार्थना है कि आप इसी तरह स्वस्थ रहकर हिन्दी और भारत माता की सेवा करते रहे ।” हिन्दी रत्न ” प्राप्ति पर बहुत बहुत बधाई एवं शुभ कामनाऐ

    Reply
  6. मुकुल शुक्ल

    आदरणीय डा. साहब
    हिन्दी रत्न सम्मान के लिए आपको हृदय से बधाई | हिन्दी के गौरव को बढ़ाने और नयी जानकारी दे कर ज्ञान वर्धन करने के लिए आपको साधुवाद | आप सही मायनों मे हिन्दी रत्न हैं और इस रत्न की चमक सदैव बिखरती रहे यही ईश्वर से कामना है |

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      मुकुल जी –इतने दिनों से, कहाँ खो गए थे? अच्छा हुआ, आपकी शुभकामनाएँ एक कारण बनी सम्पर्क का। आभार और धन्यवाद।—–मधुसूदन

      Reply
  7. डॉ. मधुसूदन

    डॉ.ब. सिंह. पटेल,विमल सोढाणी,डॉ. राजेश .कपूर

    बधाई हो
    जिन्होंने आपको सम्मानित किया उन्हें साधुवाद
    कुछ लोग सही अर्थ में पारखी हैं।
    Sent by
    Choudhary B S Patel
    —————————————————————–
    Dear Shree Madhuji
    Greetings from Bharat!
    Our heartiest congratulations for award of हिन्दी रत्न सम्मान .
    With warm regards,
    Pappu and Vimal Sodhan
    ————————————————————
    आदरणीय डा.झावेरी जी।
    इस सम्मान के वास्तव में आप सही पात्र हैं। बड़ी प्रसन्नता हुई। आयोजकों को इस सही निर्णय के लिये साधूवाद।
    बहुत-बहुत बधाई ।
    आपका अपना,
    राजेश कपूर।
    ————————————————————————-

    Reply
  8. Himwant

    अंतराष्ट्रीय हिंदी समिति ने डा मधुसूदन झवेरी को यह सम्मान दे कर बहुत सही काम किया है, हिंदी भाषा के प्रति उनकी समझ बहुत गहरी है और वे निरन्तर इसके संरक्षण सम्बर्द्वन और विकास के लिए प्रयत्नशील रहे है. उनको बहुत बहुत शुभकामनाएं. यह सम्मान उनके द्वारा किए गए प्रयासों का उचित मूल्यांकन है, और यह उनके लिए प्रेरणादायी सिद्ध होगा.

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      धन्यवाद हिमवंत जी। आप के सराहना के शब्द मुझे प्रेरित करते हैं। मैं आपके शब्दों के अनुरूप प्रयास करता रहूँगा। –धन्यवाद।

      Reply
  9. दुर्गा शंकर नागदा

    हार्दिक बधाई, डा, मधुसूदन जी।

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      समय निकाल कर आलेखों को पढने, एवं उन्मुक्त टिप्पणी देने के लिए, धन्यवाद।

      Reply
  10. डॉ. मधुसूदन

    द्वारा: छः हिन्दी शुभेच्छक

    निम्न छः हिन्दी के शुभेच्छकों की ओरसे संदेश आए।
    (१)अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी समिति के पूर्वाध्यक्ष- श्री. सुरेन्द्रनाथ तिवारी जी की ओरसे।
    (२) आशीष पाठक जी से,
    (३)अभिनव द्विवेदी-हिन्दू युनिवर्सिटी अमेरिका की ओर से,
    (४)डॉ. प्रो. यशवन्त पाठक जी की ओर से,
    (५) हरि विद्याभवन (हिन्दी शाला)में सक्रिय, डॉ. राम गुप्ता की ओरसे,
    (६) युनिवर्सीटी ऑफ मॆसेच्युसेट्स डार्टमथ प्रो. डॉ. त्रिदिब रॉय की ओर से
    ———————————————————–
    (1)I completely agree with the poet. Also Madhu bhai, congratulations on your award of ‘Hindi-Ratn’.
    Surendra (Tiwari)
    ———————————————————————–
    (2)Congratulations Madhubhai… Well-deserved….
    Ashish (Pathak)
    ——————————————
    (3)Namaste, Madhu bhai:
    Congratulations on getting this Samman!
    Would you please send a passport photo a few lines about this Samman? We can publish in HUA (Hindu University of America)-newsletter.
    with high regards,
    Abhinav Dwivedi
    ——————————————————-
    (4)Madhubhai:
    Many compliments from me.
    Keep up your contribution.
    Look forward for more enlightenment.
    Ram Gupta (Hari Vidya Bhavan, Hindi-School)
    ——————————————-
    (5)Abhinandan Bhaishaeb
    warm regards
    Dr. Yash Pathak
    ————————————————-
    (6)Congratulations Madhuji–
    Very well deserved for your continued and creative contributions to Hindi literature! Keep it up!
    Dr. T.K.Roy

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      (१) हिन्दी -समिति के पूर्वाध्यक्ष श्री. सुरेन्द्रनाथ तिवारी (२) प्रबुद्ध मित्र श्री. आशीश पाठक (३) हिन्दू युनिवर्सीटी के श्री. अभिनव द्विवेदी जी (४)हरी विद्या भवन-हिन्दी शाला के कर्मठ शिक्षक डॉ. राम गुप्ता और (६) मेरी युनीवर्सिटी के प्राध्यापक डॉ. त्रिदिव कुमार राय ===सभी को इस टिप्पणी द्वारा धन्यवाद देता हूँ। यह मेरी ही उपलब्धि नहीं, पर आप सभी की प्रेरणा का फल है।

      Reply
  11. आर.सिंह

    डाक्टर मधुसूदन को “हिंदी रत्न” से सम्मानित किया गया.यह प्रवक्ता.कॉम और उससे जुड़े हुए लोगों के लिए बहुत गर्व और गौरव का अवसर है.डॉक्टर साहब को हार्दिक बधाई और बहुत बहुत शुभ कामनाएं.

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      आप की शुभ कामनाओं के लिए, आभार व्यक्त करता हूँ। बहुत बहुत धन्यवाद।

      Reply
  12. इंसान

    “हिंदी रत्न” डॉ मधुसूदन झवेरी जी को मेरा हार्दिक अभिनन्दन।

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      आप के दो शब्द मेरी प्रेरणा हैं। अपनी मुक्त टिप्पणी देते रहें।

      Reply
  13. डॉ. मधुसूदन

    द्वारा शकुन्तला बहादुर

    आदरणीय मधुसूदन भाई,
    अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी समिति द्वारा आपको सम्मानित करने और “हिन्दी रत्न” अलंकरण प्रदान करने के समाचार से मन अत्यधिक आनन्दित हुआ।आपकी ज्ञान-साधना और वैदुष्य के अनुरूप ही ये गौरव आपको मिला है ।वस्तुत: आपको ये सम्मान देकर समिति ने स्वयं को ही सम्मानित किया है । काश, मैं भी आपके द्वारा बहायी गई ज्ञान-गंगा में अवगाहन कर पाती तो स्वयं को धन्य समझती । क्या किसी ने आपके भाषण को रिकॉर्ड करके यूट्यूब पर डाला है ? यदि ऐसा हो तो उसे सुनकर मैं भी लाभान्वित होना चाहूँगी ।
    आपकी यश-सुरभि जग में दूर दूर तक फैले और आपकी वाणी तथा लेखनी आजीवन सशक्त बनी रहे -यही कामना एवं प्रार्थना है ।
    आपकी प्रेरणा और उत्साहवर्धन के लिये आभारी हूँ ।
    शुभकामनाओं सहित सादर,
    शकुन्तला बहन

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      बहन शकुन्तला जी—आप ने सदैव पूरा समय निकाल कर आलेख पढें हैं, और उचित टिप्पणियाँ भी दी हैं। फलस्वरूप: हिन्दी के अच्छे दिन आ रहे हैं। अनेकानेक धन्यवाद।

      Reply
  14. श्रीनिवास जोशी

    आदरणीय डॉ. मधुसूदनजी का हार्दिक अभिनंदन !

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      श्रीनिवास जी और अनिल गुप्ता जी–दोनों के अभिनन्दन स्वीकार। आप दोनों को प्रांजल धन्यवाद देता हूँ।

      Reply
  15. Anil Gupta

    श्रद्धेय मधुसूदन जी का हार्दिक अभिनन्दन!

    Reply
    • डॉ. मधुसूदन

      डॉ. मधुसूदन

      बीच बीच में अपनी उपस्थिति भी लगाते रहिए। धन्यवाद।

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *