मल्टी मीडिया जागरूकता अभियान प्रारंभ

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय के विज्ञापन और दृश्य प्रचार निदेशालय, डीएवीपी द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत बेहतर स्वास्थ्य के लिए चलाई रही शासकीय कल्याणकारी योजनाओं की विस्तार से जानकारी देने के उद्देश्य से पांच दिवसीय जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जिला मुख्यालय विदिशा के रामलीला मैदान में एनआरएचएम मल्टीमीडिया जनजागरूकता अभियान का आयोजन 15 से 19 फरवरी तक तक किया गया है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार इस प्रदर्शनी शुभारंभ सोमवार 15 फरवरी को दोपहर तीन बजे किया जाएगा। इसमें राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी मल्टी मीडिया फोटो प्रदर्शनी के माध्यम से आम जनों को दी जाएगी। इस अभियान में मुख्य रूप से जिला प्रशासन, जिला पंचायत, स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास, नेहरू युवा केंद्र, क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय, गीत एवं नाटक प्रभाग, पत्र सूचना कार्यालय, आकाशवाणी, दूरदर्शन सहित स्व सहायता समूह, गैर सरकारी संगठनों की भागीदारी होगी।

इन पांच दिनों में जिला पंचायत द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना, समग्र स्वच्छता अभियान, सूचना का अधिकार एवं अन्य ग्रामीण योजनाओं की जानकारी, पंच सरपंच सम्मेलन, आंगनवाडी कार्यकर्ता सम्मेलन आदि का आयोजन, महिला बाल विकास द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी, प्रचार प्रसार, स्वस्थ्य शिशु प्रतियोगिता का आयोजन, नेहरू युवा केंद्र के वालंटियर्स द्वारा व्यवस्था में सहयोग, नुक्कड नाटक, गीत संगीत, एड्स नियंत्रण समिति द्वारा एड्स के प्रति जनजागरूकता बढाना एवं प्रचार प्रसार सामग्री का वितरण किया जाएगा।

इसी तरह क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय द्वारा एनआरएचएम व भारत निर्माण अभियान का प्रचार प्रसार, फिल्म शो, क्विज प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया जाएगा। डीएवीपी के गीत एवं संगीत प्रभाग द्वारा प्रतिदिन गीत संगीत, नाटक, कठपुतली शो आदि के माध्यम से स्वास्थ्य सेवाओं और शासकीय योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। डीएवीपी द्वारा स्वस्थ्य ग्राम स्वास्थ्य राष्ट्र ग्राम विषय पर फोटो प्रदर्शनी और मल्टी मीडिया आधारित माडल प्रदर्शित किए जाएंगे।

पीआईबी, दूरदर्शन और आकाशवाणी द्वारा पांच दिवसीय अभियान की गतिविधियों का प्रचार प्रसार और स्व सहायता समूह और गैर सरकारी संगठन द्वारा किए जा रहे कार्यों और उत्पादों का प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा भोपाल के सेवासदन नेत्र चिकित्सालय द्वारा निशुल्क नेत्र परीक्षण शिविर, नेत्रदान शिविर और हेप्स भोपाल द्वारा होम्योपैथिक चिकित्सा केंद्र का आयोजन इस अभियान में विशेष तौर पर किया जा रहा है।

-लिमटी खरे

Leave a Reply

%d bloggers like this: