इंका नेताओं के खिलाफ हुई कार्यवाही

सिवनी नगरपालिका चुनाव में मतदाताओं द्वारा साीधे चुनाव में कांग्रेस के संजय भारद्वाज को हार का सामना करना पड़ा। प्रदेश इंका के उपाध्यक्ष एवं जिले के इकलौते इंका विधायक ठाकुर हरवंश सिंह भी प्रचार कार्य में सम्मलित थे। लेकिन उनके समर्थकों की चुनावी गतिविधियां प्रारंभ से ही संदिग्ध लग रहीं थी। चुनाव के दौरान जिला इंका को मिली शिकायतों के आधार पर जिला इंका ने नपा उपाध्यक्ष संतोष उर्फ नान्हू पंजवानी को निलंबित किया तो जिला युवा इंका के पूर्व अध्यक्ष राजा बघेल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। जिला इंका के महामंत्री असलम भाई को भी कारण बताओं नोटिस जारी होने के चर्चे अखबारों में सुर्खियों में हैं। ये सभी इंका नेता हरवंश सिंह के समर्थक माने जाते हैं। ऐसा मानने वालों की भी कमी नहीं हैं कि इनसे हरवंश सिंह कुछ कहें और ये नेता वैसा ना करें ऐसी तो कल्पना भी नहीं की जा सकती। नेता प्रचार करें और समर्थकों के विरुद्ध पार्टी को अनुशासनात्मक कार्यवाही करना पड़े तो भला जीत की कल्पना कैसे की जा सकती है? अब इंका पुरोधा हरवंश सिंह हार के इस कलंक को मिटाकर जिला और जनपद पंचातों में जीत दर्ज कर जीत का सेहरा अपने सिर बांधने की जुगत जमाने में जुट गये हें। यहां यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि इन चुनावों में अध्यक्ष सीघे मतदाताओं के बजाय सदस्यों के द्वारा चुने जातें हैं और ऐसे चुनावों में हरवंश सिंह की महारथ से सभी वाकिफ हैं। इस चुनाव में पहली बार जिला पंचायत अध्यक्ष का पद अनारक्षित वर्ग से हैं इस कारण इस चुनाव में घमासान होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

Leave a Reply

%d bloggers like this: