लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under खेल जगत.


बिलकुल सही है। आईपीएल में अधिकांश विवादो की जड़ अंग्रेजी का अक्षर ‘एस’ ही है। आईपीएल से जुड़े जितने विवाद है, वे एस नाम से शुरू होने वाले व्यक्तियों द्वारा ही किये गये है। सौरव गांगुली का विवाद अपने कोच के साथ हुआ । शाहरूख खान ने सुनील गावस्कर को भली बुरी सुनाकर बखेड़ा खड़ा किया। शेन वार्ने का विवाद अपनी ही टीम के मो. कैफ के साथ हुआ। सबसे बड़ा विवाद जिसके कारण आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में हुआ, उसका कारण भी एस ही है। जी हां । सुरक्षा के विवाद के कारण ही आईपीएल भारत से बाहर कराना पड़ा। अब आप भी मान गये होंगे कि आईपीएल विवाद की जड़ अंग्रेजी का ‘एस’ अक्षर ही है।

हार का कारण है सुंदरिया

जिस टीम के साथ बॉलीवुड की सुंदरिया जुड़ी है। उन्हे हार का मुंह देखना पड़ा है। प्रीति जिंटा की टीम अच्छी होने के बावजूद आईपीएल .1 अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। नाईट राईडर्स का समर्थन पिछली बार जुही चावना ने किया था और टीम खिताब तक नहीं पहुंच पाई। आईपीएल .1 में मुंबई इंडियन्स का समर्थन भी बॉलीवुड अभिनेत्रियों ने किया था और टीम ने फाईनल से पहले ही दम तोड़ दिया है। अब शिल्पा शेट्टी राजस्थान रॉयल्स से जुड़ी है। अब आप ही सोच सकते है कि इस टीम का क्या होगा?

चीयर्स लीडर्स के दीवानों के लिए खुश खबर

दक्षिण अफ्रीका में आईपीएल होने से भले ही नाराजगी हो। परन्तु यह चीयर्स लीडर्स के दीवानों के लिए खुश खबर है। अब चीयर्स लीडर्स बिना बंदिश के अपना प्रदर्शन कर सकेगी। चीयर्स लीडर्स का प्रदर्शन वैसे तो कला की श्रेणी में आता है लेकिन पता नहीं लोग चीयर्स लीडर्स के किस प्रदर्शन के दीवाने है? अब कह रहे है चीयर्स लीडर्स का असली खेल तो दक्षिण अफ्रीका के स्टेडियम में ही देखेंगे। उनका कहना है वे तो मैच में चीयर्स लीडर्स ही देखते है। सो अब बिना विवाद बिना बंदिश चीयर्स लीडर्स का जलवा सबके लिए होगा।

प्रस्तुति मनीष कुमार जोशी

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz