लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


राजस्थान सरकार ने करौली में बच्चों को प्रलोभन देकर ख़ून निकालने के आरोप में तीन निजी अस्पतालों को ‘सील’ कर दिया है, जबकि एक नर्सिंग होम के मालिक को गिरफ़्तार किया गया है।

मीडिया में आई खबर के अनुसार इस मामले में राजस्थान पुलिस पहले ही दो डॉक्टरो सहित पाँच लोगों को गिरफ़्तार कर चुकी है। इनके ख़िलाफ़ खाद्य पदार्थ और कुछ पैसे देकर बच्चों का ख़ून निकालने का आरोप है। स्थानीय पुलिस ने के मुताबिक ऐसे बच्चों की संख्या तीस हो सकती है जो इस षड्यंत्र के शिकार हुए होंगे।

ज़िले के आला अधिकारी ने मेडिकल काउंसिल को एक पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि इस मामले में लिप्त चिकित्सकों का पंजीकरण रद्द कर दिया जाए, क्योंकि उन्होंने तय नौतिक नियमों का उल्लंघन किया है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री एए ख़ान ने पत्रकारों को बताया कि सरकार ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि इस मामले में सख़्त कार्रवाई होनी चाहिए। दो डॉक्टरों समेत इस मामले में गिरफ्तार छह लोगों को एक स्थानीय अदालत ने 19 जून तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

2 Responses to “बच्चों का खून निकालने वाले अस्पताल सील”

  1. Monika

    IT’s rediculous….

    These doc are the spot on society, they should be hang till death…

    Before doing this unhuman work, they should think about their children, if someone do the same with their childrens, how will they feel?

    There should not be any marcy for these society killers,, so tht others can also learn a lesson.

    Monika

    Reply
  2. राज भाटिया

    इस मामले में लिप्त चिकित्सकों का पंजीकरण रद्द कर दिया जाए,ओर फ़िर थोडे दिनो बाद फ़िर से अपना धंधा शुरु कर ले, क्यो नही इन्हे जेल मे ठूंस कर सीधा किया जाये, इन कुत्तो कि फ़ोटो हर पेपर मै दिखाई जाये, ओर इन के माथे मै लिख दिया जाये की बच्चो के कातिल, या फ़िर इ न्हे जनता के हवाले किया जाये

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *