लेखक परिचय

संजीव कुमार सिन्‍हा

संजीव कुमार सिन्‍हा

2 जनवरी, 1978 को पुपरी, बिहार में जन्म। दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक कला और गुरू जंभेश्वर विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्रियां हासिल कीं। दर्जन भर पुस्तकों का संपादन। राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर नियमित लेखन। पेंटिंग का शौक। छात्र आंदोलन में एक दशक तक सक्रिय। जनांदोलनों में बराबर भागीदारी। मोबाइल न. 9868964804 संप्रति: संपादक, प्रवक्‍ता डॉट कॉम

Posted On by &filed under महत्वपूर्ण लेख, मीडिया.


उमेश चतुर्वेदी को प्रथम, अविनाश वाचस्‍पति को द्वितीय एवं अंकिता मिश्र को तृतीय पुरस्‍कार 

‘प्रवक्‍ता डॉट कॉम’ द्वारा गत अक्‍टूबर महीने में आयोजित द्वितीय लेख प्रतियोगिता में उमेश चतुर्वेदी ने प्रथम, अविनाश वाचस्‍पति ने द्वितीय एवं अंकिता मिश्रा ने तृतीय स्‍थान प्राप्‍त किया है।

‘प्रवक्‍ता’ के तीन साल पूरे होने पर ‘मीडिया में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार’ विषय पर लेख प्रतियोगिता का आयो‍जन किया गया था। इस लेख प्रतियोगिता में कुल 16 प्रतियोगियों ने भाग लिया। उमेश चतुर्वेदी को प्रथम पुरस्‍कार के रूप में रु. 2500/- , अविनाश वाचस्‍पति को द्वितीय पुरस्‍कार के रूप में रु. 1500/- तथा अंकिता मिश्रा को तृतीय पुरस्‍कार के रूप में रु. 1100/- की राशि दी जाएगी एवं आगामी दिनों में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में विजेताओं को प्रमाण-पत्र से सम्‍मानित किया जाएगा।

गौरतलब है कि इससे पूर्व ‘प्रवक्‍ता’ के दो साल पूरे होने पर भी लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

 

प्रतियोगिता आयोजित करने को लेकर प्रवक्‍ता डॉट कॉम के प्रबंधक श्री भारत भूषण के सहयोग के लिए हम उनके आभारी हैं। इसके साथ ही सभी प्रतियोगी लेखकगण भी धन्‍यवाद के पात्र हैं।

विजेताओं को ‘प्रवक्‍ता डॉट कॉम’ की ओर से हार्दिक बधाई एवं शुभकामना।

आप भी इन्‍हें इमेल के जरिए बधाई दे सकते हैं :

प्रथम स्‍थान – उमेश चतुर्वेदी :  uchaturvedi@gmail.com

द्वितीय स्‍थान- अविनाश वाचस्‍पति :  nukkadh@gmail.com

तृतीय स्‍थान- अंकिता मिश्रा :  reporter.ankita@gmail.com

Leave a Reply

7 Comments on "द्वितीय प्रवक्‍ता लेख प्रतियोगिता के परिणाम घोषित"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
डॉ. मधुसूदन
Guest

उमेश जी, अविनाश जी, और अंकिता जी –
सभी विजेताओं को बधाई; और अन्य लेखकों को साधुवाद|
हिंदी लेखन को प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए|
प्रवक्ता को एक सुझाव|
३ विजेताओं के अतिरिक्त, अन्य प्रशंसा पात्र लेखकों (अगले २ या ३,पूर्व निर्धारित, निश्चित संख्या तक ही ) को भी प्रमाण पत्र भी दिया जा सकता है|
इस बिंदु पर भी सोचा जाए|

डॉ. सौरभ मालवीय
Guest

सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई।

Jeet Bhargava
Guest

तीनो को बधाई. यार मैं तो आधा ही लेख लिख सका..और भेजने से रह गया…!! हम जैसे आलसी छात्रों के लिए ‘पूरक’ परिक्षा की व्यवस्था हो तो कृपा होगी.

sunil patel
Guest

श्री उमेश चतुर्वेदी जी, श्री अविनाश वाचस्‍पति जी एवम सुश्री अंकिता मिश्रा जी को हार्दिक बधाई. प्रवक्ता संपादक श्री संजीव जी को धन्यवाद.

शादाब जाफर 'शादाब'
Guest

कलम के उन तीन कर्मठ सिपाहियो को मेरी ओर से हार्दिक बधाई जिन्होने मेरे ख्याल से अपनी लेखनी के बल पर आंधी में दीप जलाया और समंदर मैं लहरे के विपरीत अपनी कश्ती को हिम्मत और लगन से चलाये रखने के बाद मंजिल पाई। मेरी और से प्रवक्ता.काम परिवार को साधुवाद की उन्होने बहुत ही ज्वलंत मुद्दे पर प्रतियोगिता आयोजित की। पुनः सभी विजेताओ को बधाई।

wpDiscuz