लेखक परिचय

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


दुनिया में तमाम देश आर्थिक विकास का दावा कर रहे हैं पर प्रतिवर्ष 20 लाख शिशुओं की मौत जन्म के पहले दिन ही हो जाती है। वह उन बीमारियों से होती है जिसका इलाज आसानी से किया जा सकता है। दुखद यह है कि भारत में हर वर्ष ऐसे चार लाख से अधिक शिशुओं की मौत होती है।

‘सेव द चिल्ड्रेन’ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थामस कैंडी ने लाखों बच्चों के जीवन को बचाने के लिए सोमवार को ‘एवरीवन’ अभियान आरंभ करते हुए कहा कि प्रत्येक बच्चा जीवित रहने का हकदार है। इसे सुनिश्चित करना सभी की नैतिक जिम्मेदारी है।

ऐसी खबर आई है कि यह अभियान भारत सहित 40 देशों में आरंभ किया गया। खबर के मुताबिक संस्था के अध्ययन में कहा गया है कि भारत में शिशु मृत्यु दर को कम करने में काफी सफलता मिली है किंतु इसके बावजूद प्रति हजार नवजातों में 39 और प्रति हजार बच्चों में 72 की मौतों का आंकड़ा बरकरार है।

Leave a Reply

1 Comment on "जन्म के 24 घंटों के भीतर हो जाती है 20 लाख शिशुओं की मौत"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
mukesh pandey
Guest

thank s for a new knowledge .

wpDiscuz