कला-संस्कृति

कहां खो गए हमारे राष्ट्रीय स्मारक ?

इस बात पर विश्वास करना मुश्किल है कि भारतीय पुरातत्व सर्वे (एएसआई) द्वारा संरक्षित देश के 35 राष्ट्रीय स्मारक, जिनमें गुंबद, मंदिर और समाधियां शामिल हैं, लापता हैं। हालांकि यह बात और किसी ने नहीं, स्वयं केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने स्वीकारी है। विडंबना यह है कि अधिकांश लापता स्मारक दिल्ली के हैं, जहां कि एएसआई का मुख्यालय स्थित है।

लुप्त होता हुनर – ब्रजेश झा

भागलपुर शहर का एक खास इलाका है। नाम है चंपानगर। यहां कभी ‘चंपा’ नदी हुआ करती थी। और इसके पास बसे लोग बुनकर थे। मालूम नहीं कब यह नदी नाले का रूप पा गई।

राजगीर में मिला गुप्तकालीन स्तूप

बिहार के नालंदा जिला में राजगीर की गिरीव्रज पहाड़ी पर पुरातत्ववेताओं ने एक विशाल स्तूप खोज निकाल है। इस खोज को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के इतिहास में..

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद

भारतीय संस्कृति विश्व की प्राचीनतम समुन्नत संस्कृतियों में से एक है। इसकी सुदीर्घ परंपरा में अनेक मनीषी विद्वानों, मंत्र द्रष्टा ऋषियों तथा तत्ववेत्ता मुनियों के..