लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under राजनीति.



आरक्षण और संघ (RSS)

आज फिर आरक्षण विषय पर विवाद खड़ा करने का प्रयास हुआ है संघ ने हमेशा यह प्रयास किए हैं कि संविधान प्रदत्त आरक्षण जारी रहना चाहिए। संविधान में एसटी एससी ओबीसी के रिजर्वेशन प्रावधान है। इन सभी वर्गों को आरक्षण का पूरा पूरा लाभ मिले इसके लिए संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा ने 1991 में प्रस्ताव पास किया था।

प्रस्ताव में स्पष्ट कहा था कि एसटी, एससी और ओबीसी को आरक्षण के प्रावधान का पूरा लाभ मिले इसके प्रयास होते रहना चाहिए। संघ के पदाधिकारी के नाते मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि विवाद अनावश्यक पैदा करने का प्रयास किया गया है जब तक देश में जाति और जन्म आधारित असमानता रहेगी तब तक आरक्षण की सुविधा रहनी चाहिए। यह वाक्य मैंने लिटरेचर फेस्टिवल में भी कहा था और यही rss का पक्का स्टैंड है। इस विषय में विवाद उत्पन्न करने का प्रयास हुआ है। इसलिए विषय को एक बार फिर बताना पड़ रहा है। डॉक्टर वैद्य ने भी इसी विषय को कहा था। संघ को लेकर कंट्रोवर्सी उत्पन्न करने का प्रयास नहीं करें।इससे सामाजिक दृष्टि से तनाव पैदा करने की स्थिति बनती है।

दत्तात्रेय जी होसबोले
सहसरकार्यवाह
आज जयपुर में वक्तव्य

One Response to “माननीय श्री दत्तात्रयजी होसबळे,अ.भा. सह सरकार्यवाह का व्यक्तव्य।”

  1. डॉ. मधुसूदन

    डॉ. मधुसूदन

    माननीय श्री दत्तात्रयजी होसबळे,अ.भा. सह सरकार्यवाह का व्यक्तव्य, स्पष्ट है। वक्तव्य भ्रम दूर करता है। अच्छा हुआ, समय से आप ने स्पष्ट किया। धन्यवाद।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *