लेखक परिचय

बीनू भटनागर

बीनू भटनागर

मनोविज्ञान में एमए की डिग्री हासिल करनेवाली व हिन्दी में रुचि रखने वाली बीनू जी ने रचनात्मक लेखन जीवन में बहुत देर से आरंभ किया, 52 वर्ष की उम्र के बाद कुछ पत्रिकाओं मे जैसे सरिता, गृहलक्ष्मी, जान्हवी और माधुरी सहित कुछ ग़ैर व्यवसायी पत्रिकाओं मे कई कवितायें और लेख प्रकाशित हो चुके हैं। लेखों के विषय सामाजिक, सांसकृतिक, मनोवैज्ञानिक, सामयिक, साहित्यिक धार्मिक, अंधविश्वास और आध्यात्मिकता से जुडे हैं।

Posted On by &filed under कविता.


-बीनू भटनागर-
poem

भाजपा को देश की जनता ने,
बड़ी उम्मीदों से,
केंद्र की सत्ता दिलाई थी…
कांग्रेस के दस साल के शासन के बाद,
कुछ अच्छा होगा,
ऐसी आस लगाई थी।
पर हम और आप तो,
वहीं है… कुछ बिगड़ा ही है,
बना तो कुछ नहीं…
शायद शासक की भी ये सच,
जान चुके हैं।
सुनामी थी जो निकल गई,
दिल्ली वाले अब,
वोट नहीं देंगे…
इसलियें वो चुनाव में,
नहीं जाना चाहते,
उसी पैसे से कुछ घोड़े,
ख़रीद लें तो…
दिल्ली भी अपनी,
देश भी अपना
और जनता गई
भाड़ में!
पांच साल बाद मिलेंगे जनता से
तब तक, नमो नमो!

Leave a Reply

2 Comments on "उम्मीद से…"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
mahendra gupta
Guest

बहुत बढ़िया , साठ साल मार खाली , अब छह महीने तो देख लो , पांच साल के लिए चुना है , तो धैर्य रख लीजिये क्यापता कुछ बदलाव आ ही जाये

dr.ashokkumartiwari@gmail.com
Guest
dr.ashokkumartiwari@gmail.com
बीते सोमवार को आवाज़ आपकी के कार्यक्रम “मशाल” में हम नवी मुंबई के रवि श्रीवास्तव से मिले. रवि श्रीवास्तव को HPCL में सीनियर मेनेजर के रूप में कार्यरत थे लेकिन उन्हें कंपनी से इस लिए निकाल दिया गया क्योकि उन्होंने HPCL और तेल क्षेत्र में बहुत सारी गड़बड़ियो को उजागर किया. मशाल की बातचीत में रवि श्रीवास्तव ने बहुत सारे घोटालो की जानकारी दी जिसकी वजह से देश में हजारो करोड़ रुपियो का भ्रष्टाचार हुआ है. उन्होंने कहा की इस देश में मुकेश अम्बानी के इशारे पर मंत्री बदल दिए जाते है और उन लोगो को मंत्री बनाया जाता है… Read more »
wpDiscuz