बिहार

खूंटी सामूहिक बलात्कार के पीछे चर्च और नक्सलियों का खतरनाक गठजोड़

– लोकेन्द्र सिंह झारखंड के खूंटी जिले में पाँच महिला सामाजिक कार्यकर्ताओं से सामूहिक बलात्कार और

हवाई यात्रा के लिए बिहार देश का छाया प्रदेश

परंतु यह घोर विडम्बना ही है कि 10 करोड़ से भी अधिक जनसंख्या वाला देश का तीसरा सबसे बड़ा राज्य – बिहार – इस योजना से पूरी तरह बाहर है। यह चौंकाने वाली बात है कि जहाँ छत्तीसगढ़, उड़ीसा, असम जैसे राज्यों के अपेक्षाकृत कई छोटे-छोटे शहर नियमित वायुसेवा से लाभान्वित होंगे वहीँ इन राज्यों से बड़ा राज्य इस सुविधा से वंचित रहेगा।

बढ़ते अपराध एक बार फिर से बिहार को बदनामी की किसी नयी टैगिंग से नवाज देंगे …..

वर्तमान मुख्यमंत्री जी का पहला कार्यकाल अपराध नियंत्रण के लिए ही जाना जाता है और इसको लेकर मुख्यमंत्री जी ने काफी सुर्खियां भी बटोरी थीं , लेकिन अपने दूसरे कार्यकाल से मुख्यमंत्री जी का सर्वोपरि एजेंडा राष्ट्रीय फलक पर छाने और खुद की छवि को खुद ही चमकाने का हो गया और यहीं से अपराध नियंत्रण की कमान ढीली होनी शुरू हुई … मैं मानता हूँ कि आंकड़ों के हिसाब से कई अन्य प्रदेशों से बिहार में अपराध अभी भी कम है और अराजक स्थिति जैसी नौबत