अजीत कुमार सिंह

लेखक अजीत कुमार सिंह, झारखंड की सांस्कृतिक राजधानी कहे जाने वाले, भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर लिंग में से एक, बाबा की नगरी बैद्यनाथधाम, देवघर के रहने वाले हैं। इनकी स्नातक तक शिक्षा-दीक्षा यहीं पर हुई, दिल्ली से इन्होंने पत्रकारिता एवं जनसंचार में डिप्लोमा किया। छात्रजीवन से ही लेखन में विशेष रूचि रहने के कारण समसामयिक मुद्दों पर विभिन्न समाचार पत्र-पत्रिकाओं, बेबसाइट आदि में नियमित लेख प्रकाशित होते रहते हैं। देवघर और रांची में विभिन्न समाचार पत्र से जुड़कर समाचार संकलन आदि का काम किया। वर्तमान में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से प्रकाशित अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् का मुखपत्र "राष्ट्रीय छात्रशक्ति" मासिक पत्रिका में बतौर सहायक-संपादक कार्यरत हैं। संपर्क सूत्र- 8745028927/882928265

ड्रग्स के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी : आर.के. विश्वजीत

पूर्वोत्तर का एक राज्य मणिपुर... जिसे ‘भारत का आभूषण’ की भी संज्ञा दी जाती है। प्राकृतिक संपदाओं से परिपूर्ण भारत...

राष्ट्र के प्रति प्रेम और समर्पण ही सच्चा राष्ट्रवाद है : विनय बिदरे

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करते हुए प्रांत मंत्री, राष्ट्रीय मंत्री और अब राष्ट्रीय महामंत्री के...

भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन की निरूपम विभूति: चन्द्रशेखर आजाद

अजीत कुमार सिंह चन्द्रशेखर आजाद के जन्मदिवस पर विशेष भारत की स्वतंत्रता के लिए न जाने कितने वीरों ने अपनी...

14 queries in 1.343