वैचारिक संघर्ष नहीं, केरल में है लाल आतंक

Posted On by & filed under विविधा

राजेश के शरीर पर 83 घाव बताते हैं कि केरल में किस तरह लाल आतंक हावी है, केरल में दिखाई नहीं देता क़ानून का राज लोकेन्द्र सिंह केरल पूरी तरह से कम्युनिस्ट विचारधारा के ‘प्रैक्टिकल’ की प्रयोगशाला बन गया है। केरल में जिस तरह से वैचारिक असहमतियों को खत्म किया जा रहा है, वह एक तरह से कम्युनिस्ट विचार के… Read more »

असहिष्णुता की बहस के बीच केरल की राजनीतिक हत्याएं

Posted On by & filed under राजनीति

संजय द्विवेदी केरल में आए दिन हो रही राजनीतिक हत्याओं से एक सवाल उठना लाजिमी है कि भारत जैसे प्रजातांत्रिक देश में क्या असहमति की आवाजें खामोश कर दी जाएगीं? एक तरफ वामपंथी बौद्धिक गिरोह देश में असहिष्णुता की बहस चलाकर मोदी सरकार को घेरने का असफल प्रयास कर रहा है। वहीं दूसरी ओर उनके समान… Read more »

आस्था को आहत करती विद्वेष की राजनीति

Posted On by & filed under राजनीति

सुरेश हिन्दुस्थानी स्वतंत्रता मिलने के बाद भारत की राजनीति का वास्तविक स्वरुप क्या होना चाहिए? इस बात का अध्ययन करने से जो स्थिति सामने आती है, उससे वर्तमान स्थिति पूरी तरह से भिन्न दिखाई दे रही है। आज की राजनीति को देखकर ऐसा लगता है कि देश के महापुरुषों ने आजादी के बाद जैसे भारत… Read more »

केरल में बढ़ती हिंसा चिंताजनक

Posted On by & filed under राजनीति

केरल के मुसलमान आज भी बड़ी संख्या में खाड़ी देशों में काम के लिए जाते हैं। इससे उनके घर तथा मस्जिदें सम्पन्न हुई हैं। उनकी भाषा, बोली और रहन-सहन पर भी अरबी प्रभाव दिखने लगा है। यह चिंताजनक ही नहीं, दुखद भी है। देश विभाजन की अपराधी मुस्लिम लीग को देश में अब कोई नहीं पूछता, पर जनसंख्या और धनबल के कारण केरल में आज भी उनके विधायक और सांसद जीतते हैं।

‘भगवान के घर’ में वामपंथ का आतंक

Posted On by & filed under टॉप स्टोरी, महत्वपूर्ण लेख, विविधा

केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा के कार्यकर्ताओं पर वामपंथियों के हमले बढ़े, अब तक 300से अधिक निर्दोष लोगों की हत्या   – लोकेन्द्र सिंह ‘ईश्वर का अपना घर’ कहा जाने वाला प्राकृतिक संपदा से सम्पन्न प्रदेश केरल लाल आतंक की चपेट में है। प्रदेश में लगातार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी… Read more »

केरल तेजी से पाकिस्तान बनता जा रहा है

Posted On by & filed under राजनीति

तुफैल अहमद दो अक्टूबर को केरल में इस्लामिक स्टेट यानी आइएस से संबद्ध छह मुस्लिम युवकों को गिरफ्तार किया गया। वे भारत में हमला करने की योजना बना रहे थे। वे युवा आइएसआइएस के वृहत नेटवर्क का हिस्सा थे। सुरक्षा अधिकारी केरल के कन्नूर, कोझिकोड और मल्लपुरम सहित तमिलनाडु के चेन्नई और कोयंबटूर में कुछ… Read more »

लाल आतंक का क्रूर चेहरा

Posted On by & filed under राजनीति

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की इस बात से सौ फीसदी सहमत हुआ जा सकता है कि उनके खिलाफ मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में हुए विरोध प्रदर्शन के पीछे ‘संघ संस्कृति’ है। नि:संदेह यह संघ अर्थात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ही संस्कृति है, जो विचारों में घोर असहमति के बावजूद सामने वाले पक्ष को अपना मानती है।

केरल में खिलेगा नया कमल

Posted On by & filed under राजनीति

केरल में अब भारतीय कम्युनिज्म का नया कमल खिलने वाला है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नए मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बहुराष्ट्रीय निगमों को दावत दी है कि वे आएं और केरल में अपनी पूंजी लगाएं याने भारतीय और विदेशी पूंजीपतियों का केरल में स्वागत है। इसी को कार्ल मार्क्स, फ्रेडरिक एंजेल्स और लेनिन ने साम्राज्यवाद… Read more »

एथलीटों के खुदकुशी के मामले पर बोले खेलमंत्री, दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई

Posted On by & filed under प्रवक्ता न्यूज़

एथलीटों के खुदकुशी के मामले पर बोले खेलमंत्री, दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई नयी दिल्ली,। केरल में साई एथलीटों के खुदकुशी के प्रयास में एक लड़की की मौत के बाद खेलमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि भारतीय खेल प्राधिकरण से किसी के दोषी पाये जाने पर उसके खिलाफ कड़ी… Read more »

केरल को लेकर इस्लामी आतंकवादियों का षड्यंत्र

Posted On by & filed under राजनीति

– डॉ कुलदीप चंद अग्निहोत्री केरल देश का शायद सबसे ज्यादा अनुपात वाला साक्षर राज्य है। केरल ही वह प्रदेश है जहां देश के इतिहास में पहली बार लोकतांत्रिक ढंग से साम्यवादी सरकार को चुना गया था। इसलिए कुछलोग ऐसा भी कहते हैं कि केरल चिंतन और व्यवहार में देश का सबसे प्रगतिशील राज्य है।… Read more »