केवल कृष्ण पनगोत्रा

स्वतंत्र लेखक

कलियुग में दैहिक नहीं, चारित्रिक रूप में करें श्रीकृष्ण की पहचान

   केवल कृष्ण पनगोत्रा यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत ।अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम् ॥परित्राणाय साधूनां विनाशाय…