धर्म-अध्यात्म

“ईश्वर सभी मतों के धार्मिक-जनों को भी उनके पाप कर्मों का दण्ड देता है”

-मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून। ईश्वर एक अनादि, अनन्त, नित्य, अजर, अमर तथा अविनाशी सत्ता है।…

“वेदों का प्रवेश द्वार ऋषि दयानन्द का ऋग्वेदादिभाष्यभूमिका ग्रन्थ”

-मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून। वेदों का महत्व मनुष्य-जीवन के लिये सर्वाधिक है। वेद परमात्मा की…

“विश्व में ईश्वरीय ज्ञान वेद का सच्चा धारक, प्रचारक एवं रक्षक एकमात्र आर्यसमाज है”

-मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून। क्या परमात्मा है? क्या वह ज्ञान से युक्त सत्ता है। क्या…