गुजरात

गुजरात एक “शत्रु” राज्य है, क्योंकि…

नरेन्द्र भाई मोदी… यदि आपको यह लगता है कि केन्द्र की निगाह में गुजरात एक “शत्रु राज्य” है, तो सही ही होगा, क्योंकि मुम्बई-भिवण्डी-मालेगाँव के दंगों के बावजूद सुधाकरराव नाईक या शरद पवार को कभी “हत्यारा” नहीं कहा गया… एक पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा दिल्ली में चुन-चुनकर मारे गये हजारों सिखों को कभी भी “नरसंहार” नहीं कहा गया… हमारे टैक्स के पैसों पर पलने वाले कश्मीर और वहाँ से हिन्दुओं के पलायन को कभी “Genocide” (जातीय सफ़ाया) नहीं कहा जाता… वारेन एण्डरसन को भागने में मदद करने वाले भी “मासूम” कहलाते हैं… यह सूची अनन्त है।

गुजरात उपचुनावों में भाजपा का जलवा

लोकसभा चुनावों न जीत पाने के गम से भारतीय जनता पार्टी शीघ्र उबरती हुई नज़र आ रही है . पार्टी में चाल रहे अंतर्कलह को दरकिनार करते हुए भाजपा ने विधान सभा उप चुनावों में शानदार प्रदर्शन करते हुए गुजरात की 7 में से 5 सीटों पर जीत हासिल की है। पार्टी को उत्तराखंड में एक और मध्य प्रदेश में भी एक सीट पर विजयश्री मिली है।