जयराम 'विप्लव'

स्वतंत्र उड़ने की चाह, परिवर्तन जीवन का सार, आत्मविश्वास से जीत.... पत्रकारिता पेशा नहीं धर्म है जिनका. यहाँ आने का मकसद केवल सच को कहना, सच चाहे कितना कड़वा क्यूँ न हो ? फिलवक्त, अध्ययन, लेखन और आन्दोलन का कार्य कर रहे हैं ......... http://www.janokti.com/

आज़ादी के दिन शाहरुख़ अमेरिकी हिरासत में

जश्न -ए -आज़ादी का मुबारक मौका है । हम भारतीय फूले नहीं समा रहे । तेजी से विकसित हो रहे इंडिया के सुखद सपनों में खोये हुए लालकिले की प्राचीर से माननीय प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम भाषण सुनकर छाती चौडी हो रही है ।

तसलीमा और छः महीने भारत में गुजार सकती हैं

पिछले सप्ताह ६ अगस्त को भारत वापस आई तसलीमा का वीजा छः महीने के लिए बढा दिया गया है . विवादास्पद लेखिका तसलीमा नसरीन को इसी वर्ष मार्च महीने में भारत छोड़ने का फरमान सुनाया गया था . कोलकाता में कट्टरपंथियों के विरोध के बाद तसलीमा को किसी अज्ञात स्थान पर रखा गया था . जिसके बाद तसलीमा यूरोप चली गयी थी .

मानवता के साथ समझौता करने से कहीं बेहतर है राष्ट्रीयता के साथ समझौता !

आदरणीय डा० मनमोहन सिंह जी ,
चरण कमलों में सादर प्रणाम !

मनमोहन सिंह जी आप के सम्बन्ध में कहते हुए होंठ हिलने लगते हैं , जीभ थरथराने लगती है । डर से नहीं बल्कि आप का व्यक्तित्व हीं इतना प्रभावशाली है !

अशोक चक्रधर को लेकर हंगामा क्यों बरपा है ?

हिन्दी अकादमी में विवाद गहराने लगा है। वजह बनी है एक ऐसा शक्स, जिस पर आरोप लगायें जा रहे है कि वह गंभीर नहीं है बल्कि हास्यवादी है। जो अपने चिंता और चिंतन को माथे के सिकन की लकीरों में तबदील होने नहीं देता बल्कि अपनी चुटिली अंदाजों से पल में हवा कर देता है। जी हाँ हम बात कर रहे है डाॅ. अशोक चक्रधर जी की।

हाथी की मूर्तियों पर बसपा को नोटिस

new delhi . पूरे उत्तर प्रदेश में अपनी तथा पार्टी के चुनाव चिह्न ‘हाथी’ की मूर्तियां लगवाने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने बसपा प्रमुख मायावती को नोटिस भेजा है। आयोग ने मूर्तियों के रूप में अपनी तथा चुनाव चिह्न ‘हाथी’ पर खर्च हो रही धनराशि के साथ-साथ चुनाव चिह्न के दुरूपयोग पर नोटिस भेजकर 12 अगस्त तक स्पष्टीकरण मांगा है।

“करगिल युद्ध “का बिगुल

2 मई १९९९ का मनहूस दिन धरती के स्वर्ग ‘कश्मीर’ की किस्मत में चौथी बार युद्ध की सुगबुगाहट लेकर आया । करगिलके एक छोटे से गाँव गरकौन के कुछ चरवाहे अपनी याकों कि खोज में घूम रहे थे । इसी दौरान इनमें से एक ताषी नामग्याल ने बर्फ में मानव पदचिन्हों के निशान देखे ।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय की कुर्की करने पहुंचे डीटीसी के अधिकारी

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय की कुर्की करने पहुंचे डीटीसी के अधिकारी दिल्ली प्रदेश कांग्रेस और शीला सरकार एक बार फ़िर आमने सामने है । बात इतनी बिगड़ गई है कि प्रदेश कार्यालय की कुर्की-जब्ती की नौबत आ गई ।

फिरकापरस्त भाजपा और मस्जिद की तामीर !

आज की एक सेकुलर ख़बर पर किसी ने शायद ही गौर फ़रमाया होगा ! जनाब , आप जरुर पूछेंगे , ख़बर भी सेकुलर होती है क्या ? तो साहब ! सेकुलर इस वज़ह से की ख़बर ही कुछ ऐसी है ।

बाजार और बिकनी के चंगुल में गीतकार और संगीतकार

गीत-संगीत अर्थात सुरो का सागर, जो मन की गहराईयों में पहुचकर शरीर के अंदर छीपे सुक्ष्म कोशिकाओं को तरंगीत कर उसे उर्जान्वित करने का काम करती है। संगीत भारत के लिए कोई नई अवधरणा नहीं है

एक कॉमरेड व्यथा गाथा …

कल मंडीहॉउस में कॉमरेड संतोष से मिला । मुलाकात कब वाद-प्रतिवाद के ऊपर बहस में बदल गई तनिक भी पता न चला । वामपंथ की प्रासंगिकता से शुरू हुए इस बहस के अंत तक पहुँचते -पहुँचते इसकी असलियत पर ही प्रश्न चिन्ह खड़ा हो गया।

आधी आबादी का कड़वा सच

एक जमाना हुआ करता था जब शिक्षा केवल लड़कों के लिए थी । विद्यालय जाना तो दूर घर की दहलीज के भीतर ही घुट-घुट कर जीना ही लड़कियों की नियति बन कर रह गई थी ।